You are here
Home > 2019 > October

उपचुनाव के नतीजों ने दिए जाट राजनीति की बदलती हुई हवा के संकेत।

वणज करैला वाणियां, और करैला रीस..। वणज किया था जाट नै, सो का रह गया तीस..।। हनुमान बेनीवाल ने अपने भाई नारायण की नैया किसी तरह से पार लगाने में सफलता तो पायी, पर खींवसर के उपचुनावों में बेनीवाल की पोल भी खुल कर सामने आ गयी। अगर बोगस वोटिंग नही तो

Top