You are here
Home > Author: NBI Bureau

ओम माथुर फिर से वसुंधरा राजे की कुंड़ली के राहू साबित हुए !!

वसुंधरा राजे की कुंड़ली में ऐसा कोई योग नही जो उन्हे अनंत-विजय की ओऱ ले जाता है। पर, शनि की तगड़ी कृपा से उन्हे राजयोग की प्राप्ति हुई और बार बार उन्हे अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त हुई है। यज्ञ सिद्धी पर विश्वास रखने वाली वसुंधरा राजे ने, पीताम्बरा पीठ

2018 का चुनाव राजस्थान की जाट राजनीति को नयी दिशा देगा !!

राजस्थान में जाट राजनीति सबसे बड़ा फेक्टर है। वसुंधरा राजे ने पांच साल तक अपना तख्त जाटों के भरोसे ही बचाये रखा नही तो 2015 में उनकी ऱवानगी होना लगभग तय हो चुका थी। मोदी भी राजस्थान के जाटों से खौफ खाता है और यही कारण है कि वसुंधरा राजे

चुनावी नांव में हिचकोले खा रहे है राजस्थान की जनता के मुद्दे

नागौर में खरनाल के अलावा अगर कही वसुंधरा राजे जाट राणी होने के खटके दिखाने में विश्वास रखती है तो वो जगह है  - ओसियां। भोपालगढ़ के रिजर्व हो जाने के बाद मारवाड़ की जाट राजनीति का केन्द्र ओसियां है। आधे से ज्यादा खाली मैदान और ड़ूबते राजनीतिक सितारे का

दिव्या मदेरणाः खांटी जाट नेता बनने की कवायद में खाक होती विरासत

भरियां सौ छलके नही, छलकै सो आधा..! माणस आही परख्यां, बोल्या अर लाधा...!! मारवाड़ के युवा जाट को भले ही हनुमान बेनीवाल का तीखा और विद्रोही तरीके पसंद हो पर कोई अंदाज इन जवां दिलों पर राज करता है तो वो है – दिव्या मदेरणा का। बड़ी बड़ी बोलती आंखे और तल्ख आवाज, खांटी

क्या जल जायेगी राजस्थान में हनुमान बेनीवाल की लंका !!

“लूम लपेटी लंक को जारा, लाह समान लंक जरी गयी।“ लंका तो पूरी तरह से जल जाने के करीब है – पर ये लंका है हडूमान की। पांच साल तक उछल कूद मचाने के बात राजस्थान में तीसरे मोर्चे की बात करने वाले हनुमान बेनीवाल केवल 67 विधानसभा सीटों पर ही

मानवेन्द्र सिंहः राजनीति के लिक्विड़ ऑक्सीजन में

पहले वे आपसे असहमत होते है, फिर विरोध करते है, फिर वे आपकी हत्या करते है औऱ बाद में आपको पूजने लगते है। ये है किसी भी व्यक्ति के महान से महात्मा बनने की सीढीयां। पर महानता की ओऱ अग्रसर किसी व्यक्ति को अगर लिक्विड़ ऑक्सीजन में ड़ाल दिया जाये

मानवेन्द्र सिंहः घर आजा परदेसी, तेरा देश बुलाये रै!!

'मैं अकेला ही चला था, जानिबे मंजिल की ओर, लोग आते गये और कांरवा बनता गया'। पर, मानवेन्द्र सिंह के साथ विडम्बना ये है कि मंजिल की ओर जाने का रास्ता जो उन्होने चुना वो रिंग रोड़ निकला। ब्लैक काफी और बीड़ी के धुंए के बीच मानवेन्द्र सिंह दिल्ली में

सचिन पायलट ने अपनी राजनीतिक आबरु लगायी दांव पर

"फटा पोस्टर निकला हीरो" की तर्ज पर आखिरकार राजस्थान में कांग्रेस के प्रत्याशियों की लिस्ट जारी हो ही गयी। चुनावी प्रक्रिया शुरु होने के चार दिन तक दिग्गजों के भंयकर घमासान की खबरों के बीच लिस्ट आयी तो पर निकली – फुस्स। कांग्रेस के दिग्गजों ने जिस तरह से एक

Swinging Political Pendulum of Rajasthan is going Ashok Gehlot’s way

Political fortunes fluctuates during election times, some time so vigorously that careers are made or destroyed. Rajasthan is one political fight before the crucial general election in 2019 that both Congress and BJP want to win. However, fights are going on within more than its with each other.    There is

Prof Satyendra Narayan Ojha conferred with 2018 Yajurvid Ayurveda Award

Professor Satyendra Naryan Ojha has been conferred with 2018 Yajurvid Ayurveda Award. The jury comprising of eminent Ayurvedacharyas and scientists was convened to ponder upon the worthy recipient and decided in favour of Prof Satyendra Narayan Ojha. The award is conferred for his excellence and path-breaking contribution in promoting an integrated

Top