You are here
Home > India > Politics

अशोक गहलोत की अग्नि परीक्षा होगी आने वाली सर्दियां।।

राजनीति में कुछ लोग वक्त के साथ कुछ लोग बदल नही पाते पर फिर बाद में उन्हे पता चलता है कि वक्त बदल चुका है। ऐसे ही एक शख्स है, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और आने वाली सर्दिया उनके लिए राजनीतिक शीतकाल की शुरुआत साबित हो सकती है। गहलोत को

ज्यादा जहरीले सांप को पहले मारेगा नागौर का राजपूत

रेसम री ड़ोरी करै, नित-प्रति लावै धोय...। खूंटै बन्धै हेम रै, गधो तुंरग ना होय...।। बात तो पते की है पर अमित शाह ने मारवाड की सयानी बाते शायद कभी सुनी नही होगी। यही कारण है कि हनुमान बेनीवाल औऱ अमित शाह की सौदेबाजी ने मारवाड़ में चुनाव का रंग बदल

मानवेन्द्र सिंहः राजनीति के लिक्विड़ ऑक्सीजन में

पहले वे आपसे असहमत होते है, फिर विरोध करते है, फिर वे आपकी हत्या करते है औऱ बाद में आपको पूजने लगते है। ये है किसी भी व्यक्ति के महान से महात्मा बनने की सीढीयां। पर महानता की ओऱ अग्रसर किसी व्यक्ति को अगर लिक्विड़ ऑक्सीजन में ड़ाल दिया जाये

मानवेन्द्र सिंहः घर आजा परदेसी, तेरा देश बुलाये रै!!

'मैं अकेला ही चला था, जानिबे मंजिल की ओर, लोग आते गये और कांरवा बनता गया'। पर, मानवेन्द्र सिंह के साथ विडम्बना ये है कि मंजिल की ओर जाने का रास्ता जो उन्होने चुना वो रिंग रोड़ निकला। ब्लैक काफी और बीड़ी के धुंए के बीच मानवेन्द्र सिंह दिल्ली में

राजस्थान में सवालों के बर्ड हिट झेलती पायलट की उड़ान

एक प्रेस कांफ्रेस में सचिन पायलट से उनके "बाहरी "होने पर सवाल पूछा गया तब वे ना तो विचलित हुए ना ही परेशान। उन्होने बड़ी ही शालीनता से बताया कि उनका राजस्थान से संबध 1979 से है जब वे केवल ढ़ाई साल के थे। उन्होने ये भी बताया कि उनका

Congress failed to raise any issue of public interest in Rajasthan

Congress is assured of a victory in Rajasthan assembly election in 2018. This is what Sachin Pilot is saying to his close confidants - “People have already decided and now no one can stop them from coming back in power.” He is not completely out of place but ‘surprise’ is

सचिन पायलट पर लगे आरोपों की सच्चाई अभी तक साबित नही

मी टू कैंपेन के जमाने में जब सभी राजनेता देश में महिलाओं के स्वाभिमान के समर्थन में ट्वीटर पर बयान जारी कर रहे है वही एक ट्वीट राजस्थान के भावी मुख्यमंत्री सचिन पायलट के गले की हड्डी बन गया है। 13 अक्टूबर को सचिन पायलट ने मी टू कैंपेन के

Maggu Met Pappu: It’s Advantage BJP in Rajasthan

रिड़मल थापियां तिकै राजा।। Decedents of Jodha became kings in Marwar but not without approval of decedents of Ranmal. This is an unwritten code of Rathore clan that one who is supported by the nobles, only - becomes the King. The Rathore clan of Malani stands divided today as they were

Rahul Gandhi pushing Tuqhlaq Style ‘Leather Coin’ in Rajasthan

Congress is being run from Tughlaq Lane and impact of it being seen by all and sundry. Rahul Gandhi wanted to convert Congress, a mass based political party, into a cadre based, democratically run machinery. The experiment failed miserably as expected in the youth congress elections in various states. After

कांग्रेस के लिए वसुंधरा राजे के ट्रॉजन हार्स साबित हो सकते है मानवेन्द्र सिंह

ट्रॉजन हार्स - कुख्यात कम्प्यूटर वायरस का ये नाम ग्रीक कथाओं से आया है। होमर ने अपने काव्य इलियड़ में वो कहानी सुनाई है जिसमें ग्रीक सेना जब ट्रॉय को हराने में कामयाब नही हुई तो वे एक लकड़ी का बड़ा घोड़ा उनके दरवाजे पर छोड़ कर पीछे हट गये।

Top