You are here
Home > Rajasthan > Politics > राज्य सभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने 13 सितम्बर का विधानसभा का घेराव किया स्थगित

राज्य सभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने 13 सितम्बर का विधानसभा का घेराव किया स्थगित

जयपुर- सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने सरकार को चेताया है कि प्रदेश के लाखों बेरोजगारों के साथ वह छलावा कर रही है। कोरोना गाइडलाइन की आड़ में बेरोजगारों से लुका छिपी का खेल खेला जा रहा है। सरकार ध्यान से सुन ले कि क्रांति मार्च स्थगित हुआ है, रद्द नहीं। प्रदेश के बेरोजगार युवा किसी भी सूरत में सरकार को बख्शने को तैयार नहीं। आंदोलन की आगे की रणनीति को लेकर गुरुवार को बेरोजगार साथियों से चर्चा की जाएगी। 

किरोड़ी लाल मीणा ने कहा है कि वे कोरोना गाइडलाइन की पालना  करते हुए सरकार तक बेरोजगारों की हर जायज मांग को पहुंचाने के लिए अंतिम समय तक संघर्ष करेंगे। किरोड़ी लाल मीणा का कहना है कि प्रदेशभर से लाखों युवाओं की भीड़ जयपुर में जुड़ने को तैयार थी, लेकिन कोरोना गाइडलाइन की आड़ में सरकार ने उन्हें रोकने की कोशिश की है। सरकार को इस बात का डर है कि यदि लाखों की संख्या में बेरोजगार जयपुर पहुंच गए तो उसके लिए बड़ी मुश्किल पैदा हो सकती है।

किरोड़ी लाल मीणा ने युवाओं को आश्वस्त किया है कि उनकी मांगों को लेकर वे विरोध प्रदर्शन लगातार जारी रखेंगे। मीणा ने बताया कि गुरुवार को वे बेरोजगार साथियों के साथ मीटिंग कर आगे की रणनीति तय करेंगे। किरोड़ी लाल मीणा ने आज जयपुर के आसपास के कई इलाकों में सघन जनसंपर्क किया। आक्रोशित लोगों ने मीणा को समर्थन देते हुए कहा कि वे किरोड़ी के कदम से कदम मिलाते हुए हर संघर्ष को तैयार हैं। जनसंपर्क में किरोड़ी मीणा का नाच गानों के साथ भव्य स्वागत किया गया।

यह है मांगें :-

1.विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों में फीस और परीक्षा शुल्क के नाम पर छात्रों की लूट को बंद करने की करेंगे मांग l

 2.बेरोजगारों को रोजगार दिये जाने की करेंगे मांग, रोजगार नहीं मिले तब तक मांगेंगे दस हजार रुपए का मासिक भत्ता l

3.हरियाणा की तर्ज पर राजस्थान के बेरोजगार युवाओं को निजी क्षेत्र में 70% आरक्षण करवाने की है मांग l

4.सरकारी नौकरियों में बाहरी राज्यों का कोटा 5% तक सीमित करवाने का लेंगे सरकार से आश्वासन l

5.RAS सहित अन्य भर्तियों में साक्षात्कार को बंद कराने की करेंगे मांग l

6.राज्य के विभिन्न विभागों में खाली पड़े सभी रिक्त पदों को भरने की है मांग l

7.शिक्षा का व्यवसायीकरण बंद करने की रखेंगे मांग l

8.सरकारी स्कूलों एवं कॉलेजों की भांति प्राइवेट स्कूलों एवं कॉलेजों में ST/SC/OBC/EWS एवं अन्य छात्रों को छात्रवृत्ति सहित सभी सरकारी सहायता के छात्रों को उपलब्ध कराई जाये l

Leave a Reply

Top