You are here
Home > Rajasthan > Politics > ‘हर घर नल कनेक्शन’ के तहत 245 गांवों में मिलेगें 51639 कनेक्शन – सुधांश पंत

‘हर घर नल कनेक्शन’ के तहत 245 गांवों में मिलेगें 51639 कनेक्शन – सुधांश पंत

जयपुर – जल जीवन मिशन (जेजेएम) अन्तर्गत राज्य स्तरीय योजना स्वीकृति समिति (एसएलएसएससी) की बैठक अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) सुधांश पंत की अध्यक्षता में शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग (वीसी) के माध्यम से आयोजित की गई। बैठक में प्रदेश के 1067 गांवों में 1461.33 करोड़ रुपये की लागत से 161 ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं की मंजूरी प्रदान की गई, इनके तहत 2 लाख 44 हजार 879 ‘हर घर नल कनेक्शन’ दिए जाएंगे।

एसीएस सुधांश पंत ने बताया कि रेग्यूलर विंग के तहत 337.38 करोड़ रुपये की लागत से 149 परियोजनाएं स्वीकृत की गई, इनसे 245 गांवों में 51 हजार 639 ‘हर घर नल कनेक्शन’ दिए जाएंगे। वहीं मेजर प्रोजेक्ट्स के तहत 1123.95 करोड़ रुपये की लागत से 822 गांवों में एक लाख 93 हजार 240 ‘हर घर नल कनेक्शन’ देने के लिए 12 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई। इसके अलावा राजसमंद एवं धौलपुर जिलों में सर्वे और डीपीआर तैयार करने के दो प्रस्तावों को भी स्वीकृति दी गई।

मेजर प्रोजेक्ट्सः 4 जिलों में 193240 ‘हर घर नल कनेक्शन’ की स्वीकृति

सुधांश पंत ने बताया कि मेजर प्रोजेक्ट्स में झालावाड़ में माधवी पेयजल आपूर्ति परियोजना में 32 गांवों में 5254 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 14.24 करोड़, गुलेंडी पेयजल आपूर्ति परियोजना में 78 गांवों में 12 हजार 355 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 34.21 करोड़, कालीखार पेयजल आपूर्ति परियोजना में 71 गांवों में 11 हजार 686 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 35.42 करोड़, छापी-झालावाड़ पेयजल आपूर्ति परियोजना में 218 गांवों में 38 हजार 607 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 150.99 करोड़, रायपुर-पिड़ावा-चनवाली पेयजल आपूर्ति परियोजना में 26 गांवों में 6164 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 27.33 करोड़ तथा पीपलाद पेयजल आपूर्ति परियोजना में 14 गांवों में 3434 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 9.26 करोड़ रुपये की स्वीकृति जारी की गई। इसी प्रकार नागौर में डेगाना, भैरूंदा, रियां और जायल के 10 गांवों और 323 ढाणियों में 8460 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 60.90 करोड़, डीडवाना और बोलासर के 34 गांवों और 240 ढाणियों में 8267 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 61.23 करोड़ तथा परबतसर में 10 गांवों और 624 ढाणियों में 15 हजार 212 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 104.09 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गई। इसके अलावा कोटा में रामगंज पचपहाड़ पेयजल आपूर्ति परियोजना में 181 गांवों में 38 हजार 69 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 169.51 करोड़, नागौर में मकराना ब्लॉक में 17 गांवों में 16 हजार 931 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 113.38 करोड़ तथा धौलपुर में 131 गांवों में 28 हजार 801 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 343.39 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई।

रेग्यूलर विंग

10 जिलों में 51639 ‘हर घर नल कनेक्शन

एसीएस सुधांश पंत ने बताया कि रेग्यूलर विंग में प्रतापगढ़ जिलें में 13 गांवों में 12 परियोजनाओं के तहत 3117 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 18.76 करोड़, अलवर में 42 गांवों में 37 परियोजनाओं के तहत 7819 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 34.21 करोड़, बांसवाड़ा में 22 गांवों में 11 परियोजनाओं के तहत 8787 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 59.42 करोड़, बारां में 33 गांवों में 33 परियोजनाओं के तहत 9752 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 48.65 करोड़, बूंदी में 2 गांवों में 2 परियोजनाओं के तहत 736 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 3.33 करोड़, हनुमानगढ़ में 12 गांवों में 4 परियोजनाओं के तहत 680 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 6.48 करोड़, जैसलमेर में 30 गांवों में 13 परियोजनाओं के तहत 3270 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 60.85 करोड़, पाली में 3 गांवों में एक परियोजना के तहत 280 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 1.35 करोड़, उदयपुर में 73 गांवों में 29 परियोजनाओं के तहत 16 हजार 255 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 100.88 करोड़ तथा गंगानगर में 15 गांवों में 7 परियोजनाओं के तहत 943 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लिए 3.45 करोड़ रुपये की स्वीकृति जारी की गई।

राजसमंद एवं धौलपुर में डीपीआर के लिए 96.25 लाख स्वीकृत

एसीएस सुधांश पंत ने बताया कि बैठक में राजसमंद एवं धौलपुर जिले में सर्वे एवं डीपीआर तैयार करने के दो प्रस्ताव भी स्वीकृत किए गए। राजसमंद जिले में कुंभलगढ़ के 97 तथा राजसमंद के 64 गांवों में 25 हजार 678 ‘हर घर नल कनेक्शन’ के कार्यों के लिए 53.93 लाख रुपये तथा धौलपुर के 117 गांवों में 21 हजार 846 ‘हर घर नल कनेक्शन’ देने के लिए 42.32 लाख रुपये की लागत से डीपीआर तैयार की जाएगी।

Leave a Reply

Top